ज़ेवर टोल प्लाजा पर भारी ट्रेफ़िक जाम!

आज हम सुबह साढ़े नौ बजे दिल्ली के जसोला से अलीगढ़ के लिए निकले, और 10 बजकर 2 मिनट पर ज़ेवर टोल प्लाज़ा पर पहुंचे। यानी आधे घंटे में हम ज़ेवर टोल प्लाज़ा पहुँच गए। टोल प्लाजा को पार करने में 44 मिनट लग गए। यहाँ भारी जाम था। हमने टोल कर्मी से ट्रैफिक जाम की वजह जाननी चाही तो उन्होंने बताया कि ये जाम आज ही लगा है और इसका मुख्य कारण 3 दिन की छुट्टियां हैं और लोग छुट्टी मनाने के लिए बड़ी संख्या में निकले हैं। यात्रियों का प्रश्न था कि अगर टोल प्रशासन टोल को संभाल नहीं सकता तो टोल को फ्री कर देना चाहिए। लोग टोल रोड से इसलिए निकलते हैं ताकि समय की बचत हो सके। इसीलिए लोग टोल चुकाने के लिए भारी रक़म का भुगतान करते हैं। यहाँ से गुज़र रहे हाजी रऊफ़ खान जी से हमने पूछा कि आप कितने समय से यहाँ पर हैं, उन्होंने बताया कि मैं लगभग पौन घंटे से यहाँ पर हूँ, उन्होंने अपने ग़ुस्से का इज़हार करते हुए कहा कि सरकार अगर पब्लिक को सुविधा नहीं दे सकती तो उसे हमसे टोल टैक्स लेने का कोई अधिकार नहीं है, हम टोल टैक्स अपनी सुविधा के लिए देते हैं और जब सुविधा ही नहीं तो टैक्स किस बात का?
हम उत्तर प्रदेश सरकार से मांग करते हैं कि अगर इस तरह से टोल प्लाजा पर जाम लगे तो इसको संभालना भी सरकार की ज़िम्मेदारी है। इसको सँभालने के लिए अतिरिक्त प्रबंध होने चाहियें। और अगर भारी ट्रैफिक को सँभालने में दिक्कत आती हो तो कुछ देर के लिए टोल को फ्री कर देना चाहिए। ऐसा करने से इस समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा।

मुहम्मद शोएब

शायद आपको ये भी अच्छा लगे लेखक की ओर से अधिक