दलित आंदोलन के बाद आज फिर भारत बंद!

सुप्रीम कोर्ट के अनुसूचित जाति एवं जनजाति कानून को लेकर फैसले के विरूद्ध 2 अप्रैल को भारत बंद में कई बड़ी हिंसाए और आगजनी हुई थी। मध्य प्रदेश सरकार ने आज 10 अप्रैल को सोशल मीडिया द्वारा बुलाये गए भारत बंद को मद्देनज़र रखते हुए सुरक्षा का पुख़्ता इंतज़ाम किया है।

इस बंद का राजस्थान, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र में कुछ ख़ास असर नहीं दिखा, जबकि भिंड-मुरैना के कई क्षेत्रों में पहले से ही कर्फ्यू घोषित कर दिया गया था। भोपाल के अलावा कई और ज़िलों में धारा 144 लागू कर दी गयी और इंटरनेट सेवा ठप्प कर दी गयी हैं।

मध्य प्रदेश में बंद को नज़र में रखते हुए होमगार्ड, रेलवे पुलिस, रैपिड एक्शन फ़ोर्स एवं पुलिस बल की भारी तैनाती की है। भोपाल में सुबह 6 बजे से 24 घंटे के लिए धारा 144 लागू कर दी गयी थी।

किसी भी प्रकार की रैली पर पूर्णतया रोक, पांच से ज़्यादा व्यक्ति इकट्ठे होकर धरना या प्रदर्शन नहीं कर सकते, कोई भी लाठी डंडा लेकर नहीं घूमेगा। विवाह, शवयात्रा, स्कूल, होटल, इत्यादि को इससे दूर रहने के निर्देश हैं।

चम्बल के आईजी सतोष सिंह ने कहा की भिंड व मालनपुर, गोहद एवं मेहगांव और मुरैना में कल रात से आज शाम तक के लिए कर्फ्यू घोषित है। ग्वालियर और चम्बल के ज़्यादातर इलाकों में इंटरनेट सेवा ठप्प कर दी गयी है।

राजस्थान में बंद का कोई ख़ास असर नहीं दिखा, इसके कारण कोई भी घटना सामने नहीं आयी है, यातायात में भी कोई बाधा नहीं हुई है। जयपुर और 5 अन्य ज़िलों में भी इंटरनेट सेवाएं ठप्प हैं और धारा 144 लागू है।

उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों को छोड़कर बाकी कहीं भी बंद का कोई ख़ास असर नहीं दिखा।

Loading...

शायद आपको ये भी अच्छा लगे लेखक की ओर से अधिक

Loading...