ओवैसी ने किया ख़बरदार

बीते दिनों ट्रेन में मौलानाओं के साथ हुई मारपीट पर एआईएमआईएम के चीफ और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है।ओवैसी  ने कहा है कि टोपी पहनने वालों ने देश को अंग्रेजों से आजाद कराया था जबकि चड्ढी पहनने वालों ने अंग्रेजों के लिये काम किया था।

ओवैसी ने उन तमाम मुसलमानों का भी ज़िक्र किया, जिन्होंने आजादी के वक़्त में अहम् भूमिका निभाई थी। उन्होंने आगे कहा कि ‘टोपी पहनने वाले बहादुर शाह जफर, अल्लामा फज़ल ए हक़ खैराबादी, मौलवी अहमद शाह, अजीमुल्लाह खान, मौलाना आजाद, जौहर बंधुओं, मौलाना हुसैन अहमद मदनी, डॉक्टर मुख्तार अहमद अंसारी आदि लोगो  ने देश को आजाद कराया, चड्ढी पहनने वालों ने सिर्फ अंग्रेजों का साथ दिया।

आपको बता दें कि हाल ही में वेस्टर्न यूपी के रहने वाली तीन मौलानाओं के साथ ट्रेन में मारपीट की गई थी। बड़ी बात यह है कि इस मारपीट के दौरान तमाम लोग तमाशबीन बने देखते रहे। किसी ने भी मौलानाओं को बचाने की कोशिश नहीं की। यह ट्रेन से दिल्ली से आ रही थी और यह शर्मनाक हादसा बागपत के पास हुआ।

Loading...

शायद आपको ये भी अच्छा लगे लेखक की ओर से अधिक

Loading...